स्ट्रेस के कारण हो सकती हैं ये बीमारियां, स्ट्रेस को दूर करने का बेहतरीन तरीका

स्ट्रेस (तनाव) का शिकार इंसान डिप्रेशन में चला जाता है और बात-बात पर चिड़चिड़ाने लगता है जिससे वह अपनी मानसिक शक्तिया खो देता है,  ऐसे दौर में जी रहे हैं हम, जिसमें तनाव जिंदगी का एक अंग बन गया है. जिसके कारण भूख पियास सब स्ट्रेस में बदल गयी है और स्ट्रेस हमारी मानसिक सेहत पर असर डालता है, जो बेचैनी और डिप्रेशन की वजह बनता है. स्ट्रेस की वजह से लोग ऐसी चीजें खाना ज्यादा पसंद करने लगते हैं, जिनमें ट्रांसफैट, नमक और चीनी की ज्यादा मात्रा होती है. जिससे मोटापे की समस्या होती है और मोटापा भी व्यक्ति की जीवन में तनाव का कारण बनता है जिससे दिल का रोग, हाईपरटेंशन और डायबिटीज जैसी बीमारियां होने की आशंका रहती हैं.इन चीजों से भी स्ट्रेस का होना पाया जाता है
 sharabkaasdik
 स्ट्रेस इंसान को तंबाकू, शराब और कई अन्य नशों के लिए भी प्रेरित करता है और नशे का आदी बना देता है.नशा इंसान को अंदर ही अंदर खत्म कर देता है, स्ट्रेस आज लाइफस्टाइल से जुड़ी कई बीमारियों का कारण बन चुका है, इसलिए स्ट्रेस का प्रबंधन होना अब बेहद जरूरी हो गया है.

Sad womanरिसर्च में यह बात सामने आई है कि गुस्सा और आक्रामकता दिल के रोगों का नया खतरा बन कर उभर रहा है. इस समय दिल के रोगों से इंसान को सबसे ज्यादा दिल के दौरे का खतरा है यहां तक कि गुस्से की हालत को दोबारा याद करने से भी दिल का दौरा प्रोत्साहित होता है.और बहुत से डॉक्टरो का यह भी मानना है कि अगर डॉक्टर आईसीयू में बेहोश मरीज के सामने नकारात्मक बातें करने की बजाय सकारात्मक बातें करें तो उसके नतीजे बहुत ही बेहतर निकलते हैं.
Sadhguru-Mission-Isha-Yoga-6-20120808_CHI_0006-IE11
स्ट्रेस को दूर करने का सबसे बेहतरीन तरीका है अपने विचारो, बोलो और क्रियाओं में मौन को लाना. प्राकृतिक  माहौल में शांत मन से केवल सैर करते हुए और प्राकृति की सुंदर आवाजों को सुनते हुए बिताना 20 मिनट के ध्यान के बराबर प्रभावशाली होता है. 20 मिनट के ध्यान से वही मानसिक ऊर्जा प्राप्त होती है जो सात घंटे की नींद से मिलती है.

LEAVE A REPLY