30 दिसंबर तक बदल सकेंगे पुराने नोट, 16 सवालों में समझें पूरा मामला


 

वरिष्ठ लेखक निखिलेश मिश्रा के द्वारा लिखी इस खबर के माध्यम से हम आपको 16 ख़ास बातें समझायेंगे जिससे 500 और 1000 के नोटों के बंद होने की सूचना पर आप भ्रमित न् होकर कुछ भृम की स्थिति को सामान्य कर सके !

नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को बड़ा एलान किया। पांच सौ और हजार रुपए के नोट मंगलवार आधी रात से बंद कर दिए गए हैं। इन नोटों को 31 दिसंबर तक बदला जा सकेगा। बुधवार को बैंक बंद रहेंगे। 10 नवंबर तक देशभर के दो लाख से ज्यादा एटीएम काम नहीं करेंगे। मंगलवार रात राष्ट्र के नाम संदेश में मोदी ने कहा- हमने काले धन के चोरों के लिए दरवाजे बंद कर दिए हैं। देश अब शुचिता की दिवाली मनाए। दीपावली के बाद ईमानदारी के इस उत्सव में आप बढ़चढ़कर भाग लें। Q & A में जानें क्या है ये फैसला और कैसे बदल सकेंगे नोट….


 

1# क्या फैसला हुआ?

A. 500-1000 के नोट बंद किए गए।


2# कब से बंद हो रहे हैं ये नोट?
A. 08 नवंबर रात 12:00 बजे से।


3# ऐसा क्यों किया गया?
A. भ्रष्टाचार, हवाला कारोबार, आतंकवाद की फंडिंग और जाली नोट रोकने के लिए। और बेईमानों का कालाधन सामने लाने के लिए।


4# अब क्या होगा?
A. 500-1000 के पुराने नोट आप बैंक या पोस्ट ऑफिस में आईडेंटिटी कार्ड जैसे आधार कार्ड, मतदाता पत्र, राशन कार्ड, पासपोर्ट, पैन कार्ड दिखाकर बदल सकेंगे। आरबीआई ने 500 और 2000 रुपए के नए नोट निकाले हैं। ये 10 नवंबर से जारी होंगे।


5# पुराने नोट बदलने की क्या इसकी कोई आखिरी तारीख तय है?
A. 30 दिसंबर तक ये नोट जमा कराए जा सकेंगे।


6# क्या इसके बाद भी क्या बदले जा सकते हैं?
A. हां, ये नोट 31 मार्च 2017 तक घोषणा पत्र (डिक्लरेशन फॉर्म) के साथ सीधे आरबीआई में जमा कराए जा सकेंगे।


7# एक बार में 500-1000 के कितने नोट जमा किए जा सकेंगे?
A. 10 से 24 नवंबर तक एक दिन में 4000 रुपए मूल्य के नोट ही जमा कर सकेंगे।


8# क्या बैंक में 9 नवंबर से ही 500-1000 के नोट जमा होंगे?
A. नहीं। नई व्यवस्था लागू करने के लिए बैंक 9 नवंबर को बैंक बंद रहेंगे। 10 नवंबर से खुलेंगे।


9# एटीएम से अगर 500-1000 के नोट निकले तो क्यों करें?
A. एटीएम से 500-1000 के नोट हटाने के लिए इन्हें बुधवार-गुरुवार को बंद रखा जाएगा।


10# 10 नवंबर के बाद क्या एटीएम से रकम निकाल सकते हैँ?
A. 10 नवंबर के बाद एटीएम से एक दिन में सिर्फ 2000 रुपए निकालने की लिमिट तय की गई है।


11# क्या कार्ड और चेक से लेनदेन पर कोई असर होगा?
A. नहीं। कार्ड और चेक से लेनदेन पहले की तरह होता रहेगा।


12# क्या सरकार ने कोई और रियायत दी है?
A. हॉस्पिटल, एयरपोर्ट, बस स्टेशन, पेट्रोल पंप पर 11 नवंबर रात 12 बजे तक 500-1000 के नोट लिए जाएंगे।


13# क्या नए नोट निकालेगी सरकार? 
A. हां, सरकार 500 और 2000 के नए नोट निकालेगी।


14# इन नोटों में क्या होगा? 

A. 500 के नोट पर लाल किला और 2000 के नोट पर मंगलयान के चित्र होंगे।


15# आप क्या करें और क्या ना करें? 

A. कोई 500 या 1000 के नोट देकर इन्हें बदलने के लिए कहे तो बैंक न जाएं। सिर्फ अपने नोट बदलें। क्योंकि नोट बदलने के लिए आईडेंटिटी कार्ड जरूरी होगा। इनका पुख्ता रिकॉर्ड रखा जाएगा। वीडियो रिकॉर्डिंग की जाएगी। हालांकि, आप अगर अपने नोट बदलने जा रहे हैं और ये काला धन नहीं है तो चिंता करने की कोई बात नहीं। आप आराम से नोट बदल सकेंगे।


16# इस फैसले का कहां होगा असर? कौन होगा ज्यादा प्रभावित? 

A. पेट्रोल पंप, मे़डिकल स्टोर, छोटी किराना दुकानें, हॉस्पिटल, टोल प्लाजा, स्ट्रीट फूड, पर्यटन स्थल जैसी जगहों पर कैश का सबसे ज्यादा इस्तेमाल होता है। यहां शुरुआती कुछ दिनों में लोगों को परेशानी हो सकती है।



 

मोदी ने क्या कहा? 

– मोदी ने राष्ट्र के नाम संदेश में कहा, “देश के सामान्य नागरिक की एक ही तमन्ना है कि वह कुछ भी कर गुजरने को तैयार है। आतंक के खिलाफ जंग में हम थोड़ी सी कठिनाई कुछ दिनों के लिए तो सहन कर ही सकते हैं। मेरा विश्वास है कि आम आदमी भ्रष्टाचार के खिलाफ शुचिता के इस महान यज्ञ में खड़ा होगा। दीपावली के पर्व के बाद ईमानदारी के इस उत्सव में आप बढ़चढ़कर भाग लें।”

देश का ईमानदार नागरिक असुविधा तो चुनेगा लेकिन भ्रष्टाचार नहीं। ये देश की सफाई का अभियान है। ताकि हर नागरिक गर्व के साथ यह काम कर सके। दुनिया को दिखा दें कि भारत का नागरिक कितना ईमानदार है। कार्ड और चेक से लेनदेन पर असर नहीं पड़ेगा।

अतः सभी जनसामान्य से गुज़ारिश है कि उक्तानुसार सम्बन्धित प्रतिष्ठान पूर्ण जानकारी के आभाव में यदि नोट न ले रहे हो तो कृपया शान्ति का सहयोग करे तथा उन्हें पूर्ण विषय वस्तु से सप्रेम अवगत कराते हुए उक्त के अंतर्गत नियमतः व्यवहार किये जाने का अनुरोध करें एवं प्रेम व् शान्ति व्यवस्था बनाये रखने में अपने अपने जिले का सहयोग करें……धन्यवाद निखिलेश मिश्रा

लेखकः  निखिलेश मिश्रा सुचना प्रौद्योगिकी, प्रशासन एवं आपदा प्रबंधन के उच्च स्तरीय प्रशिक्षण के क्षेत्र में सुविख्यात प्रशिक्षक(ट्रेनर), विशेसज्ञ तथा अनुभवी सलाहकार हैं।

">

LEAVE A REPLY