भारत देश में अचानक कोरोना के मामला बढऩे की वजह तबलीगी जमात यात्राएं: स्वास्थ्य मंत्रालय


नयी दिल्ली. कोरोना वायरस को लेकर ताजा स्थिति क्या है, रिलीफ कैंप में किस तरह लोगों की मदद की जा रही है इसकी जानकारी देने के लिए स्वास्थ्य मंत्रालय, गृह मंत्रालय की तरफ से प्रेस कॉन्फ्रेंस किया गया. इसमें स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने बताया कि तबलीगी जमात के 1800 लोगों को 9 अलग- अलग अस्पताल में भेजा गया है. अबतक हमारे पास 1637 कोरोना के मरीज है जिनमें 386 नये पॉजीटिव है. 38 लोगों की मौत हुई है.


OMG! हवा से फैल रहा है Corona Virus, टीका ...

अचानक मरीजों की संख्या बढऩे का कारण है कि तबलीगी जमता के लोगों ने यात्राएं की.

रेलवे 3.2 लाख स्पेशल बेड तैयार कर रहा है जिसमें लगभग 20 हजार रेलवे कोच शामिल होंगे. 5 हजार कोच पर काम शुरू हो चुका है. दूसरी तरफ हवाईजहाज से जरूरी सामग्री जिसमें टेस्टिंग किट, दवाएं मंगवाई जा रही है.

नेशनल फार्मा सिटिकल प्राइसिंग अथॉरिटी ने डिवाइस, संबंधित दवा पर 10 फीसद से अधिक कीमत वृद्धि पर रोक लगायी है. सुप्रीम कोर्ट में दायर की गयी एक याचिका के तहत रिलीफ कैंप में ट्रेंड काउंसलर हों, सभी धर्मों के लीडर जाकर उनसे बात करें. किसी भी तरह की भ्रांति ना फेले इसके लिए स्पेशल आईडी technicalquery.covid19’gov.in बनी है. लव अग्रवाल ने कहा, सोशल डिस्टेसिंग का हम सभी पालन करेंगे ऐसी उम्मीद है. आप जरूरी सामान खरीदते वक्त भी आपस में दूरी बनाये रखेंगे.

आर गंगा केटकर ने बताया आज तक 47,951 किये गये हैं जिसमें 4562 में आईसीएमआर के लैंब में किये गये हैं. प्राइवेट लैंब में 816 किये गये हैं. आईसीएमआर लैब की संख्या 126 हो गयी है. 51 प्राइवेट लैब है जिन्हें टेस्ट की इजाजत दी गयी है.

गृहमंत्रालय की प्रवक्ता ने कहा, लॉकडाउन सही तरीके से चल रहा है. राशन की सुविधा भी लोगों को आसानी से उपलब्ध है. प्रवाशी भारतीयों के लिए केंद्रशासित प्रदेश और राज्य दोनों खाने और रहने की व्यस्था कर रहे हैं. ताजा आकंड़े के अनुसार 21486 रिलीफ कैंप बनें हैं. जिसमें 675133 लोगों को रहने की व्यस्था है और लगभग 25 लाख लोगों को खाना दिया गया है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार हमने ट्रेंड काउंसलर की व्यस्था हो.

">
SHARE
Previous articleकोरोना के कारण इस साल विंबडलन का आयोजन स्थगित
Next articleचैत्र नवरात्रि में रखें व्रत तो इन बातों का रखें ध्यान, क्या खाएं क्या ना खाएं
■ www.indianews24x7.Com ■ www.indianews24x7.in ● इंडिया न्यूज़ 24x7 एक वेब न्यूज़ पोर्टल है, इस वेब न्यूज़ पोर्टल का किसी भी रीजनल या नेशनल चैनल से किसी प्रकार का वास्ता नही है, इंडिया न्यूज़ 24x7 न्यूज़ पोर्टल को किसी भी नेशनल या रीजनल चैनल के साथ नाम जोड़कर बताने वाला व्यक्ति या संस्थान स्वयं जिम्मेदार होगा, तथा कानूनी कार्यवाही का भी, ● इंडिया न्यूज़ 24x7 न्यूज़ पोर्टल भी कानूनी कार्यवाही में उस संस्थान के साथ खड़ा होगा जो ऐसा ग़लत कार्य करता पाया जाएगा, हमारे न्यूज़ पोर्टल का उद्देश्य पत्रकारिता की आड़ में दलाली को बढ़ावा देना नही है, बल्कि उसे जड़ से खत्म करना हैं । ●आवश्यक सूचना : इंडिया न्यूज 24x7 न्यूज पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें यदि किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो indianews24x7.in@gmail अथवा 08090697372, 09580697372 पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें, जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

LEAVE A REPLY