पकिस्तान में जहाँ टेलीविजन तोड़ने का सिलसिला नज़र आया तो वहीँ भारतीय बाजार में बड़ी स्क्रीन वाले टीवी सेट्स की मांग में भारी इजाफा


नई दिल्ली. वर्ल्ड कप क्रिकेट का असर इलेक्ट्रॉनिक मार्केट पर भी दिखाई दे रहा है. अच्छी बात यह है कि यह असर सकारात्मक है. मिली जानकारी के मुताबिक वर्ल्डकप मैचों के बीच बड़ी स्क्रीन के टीवी सेटों की मांग में जोरदार इजाफा हुआ है. बारिश की वजह से विश्व कप क्रिकेट में कई मैच रद्द हो गए हैं. लेकिन भारतीयों पर क्रिकेट का बुखार चढ़ चुका है. बड़ी संख्या में भारतीय दर्शक हाईएंड टीवी की ओर रुख कर रहे हैं.उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स कंपनियों सोनी, सैमसंग, एलजी और पैनासोनिक की बड़े स्क्रीन (55 इंच और अधिक) के टीवी सेटों की बिक्री पिछले साल की समान अवधि से 100 प्रतिशत अधिक रही है.


Related imageदिलचस्प बात यह है कि बड़े टीवी सेटों की बिक्री सिर्फ महानगरों तक सीमित नहीं है, बल्कि छोटे शहरों मसलन हुबली, जबलपुर, रायपुर, रांची, कोच्चि और नागपुर में भी बिक्री में उल्लेखनीय बढ़ोतरी देखने को मिल रही है.कंपनियों को उम्मीद है कि विश्वकप में नॉक आउट मुकाबले शुरू होने के बाद उनकी बिक्री में और इजाफा होगा. क्रिकेट प्रेमियों को लुभाने के लिए कंपनियां कई तरह की आकर्षक पेशकश करने की तैयारी कर रही हैं. इनमें आसान वित्तपोषण की सुविधा और कैशबैक जैसी पेशकश शामिल हैं.


Related image

सोनी इंडिया ब्राविया के कारोबार प्रमुख सचिन राय के मुताबिक विश्व कप को शुरू हुए करीब दस दिन हो गए हैं. बड़े स्क्रीन विशेषरूप से 55 इंच और 4के टीवी सेटों की मांग में 100 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई है. पिछले साल की समान अवधि की तुलना में इनकी बिक्री दोगुना रही है.सैमसंग इंडिया के वरिष्ठ उपाध्यक्ष उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स कारोबार राजीव भूटानी ने कहा कि क्रिकेट प्रेमी विश्व कप का बड़े स्क्रीन पर आनंद लेना चाहते हैं. इसलिए वे बड़े स्क्रीन वाले टीवी सेटों की खरीद कर रहे हैं.

क्यूएलईडी टीवी सहित 55 इंच और बड़े स्क्रीन के टीवी की बिक्री मई महीने में पिछले साल की समान अवधि की तुलना दोगुना रही है. 75 इंच और उससे बड़े टीवी की मांग पांच गुना हो गई है. इससे पता चलता है कि इस विश्वकप में बड़े स्क्रीन के टीवी की मांग बढ़ रही है.

">

LEAVE A REPLY