फिल्म समीक्षा : एजुकेशन में होने वाली ‘चीटिंग’ व ‘सेटिंग’ की पोल खोलती है सेटर्स


कलाकार – आफताब शिवदासानी,श्रेयस तलपड़े,सोनाली सहगल,पवन मल्होत्रा,विजय राज,इशिता दत्ता

निर्देशक –  अश्विनी चौधरी

मूवी टाइप – ड्रामा, थ्रिलर, क्राइम

कहानी :-  बनारस के एक भैया जी हैं, जो बाहुबली से लेकर एग्ज़ाम वॉरियर तक सब कुछ हैं. पूरे देशभर में पैसे लेकर लोगों के एग्ज़ाम क्रैक कराते हैं. चाहे इंजीनियरिंग हो, मेडिकल हो या रेलवेज़. उनका पूरे भारत में नेटवर्क है. कहने को तो पूरा सेटअप उनका है लेकिन ग्राउंड लेवल पर काम उनका दायां हाथ अपूर्वा (श्रेयस तलपड़े) करता है. उसके पास सारे जुगाड़ हैं. एसपी आदित्य (आफताब शिवदासानी) को एक टीम गठित करके इस गिरोह का पर्दाफाश करने की जिम्मेदारी दी जाती है. आदित्य एजुकेशन सिस्टम के इस घपले को सामने लाने के लिए ईशा (सोनाली सहगल), अंसारी (जमील खान) और दिबांकर (अनिल मांगे) जैसे बागी पुलिस वालों की टीम बनाता है. उधर अपूर्वा एजुकेशन सिस्टम में घुसपैठ करने के साथ-साथ भैयाजी की बेटी प्रेरणा (इशिता दत्ता) के प्यार में पड़ जाता है. क्या आदित्य सफल हो पाता यह जानने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना पड़ेगा.

">

LEAVE A REPLY