फ़िल्म समीक्षा : ‘केसरी’ सिख सैनिकों के पराक्रम व बलिदान को करती है सलाम


फिल्म :- Kesari

कलाकार :- Akshay Kumar, Parineeti Chopra

निर्देशक :- Anurag Singh

अक्षय कुमार स्टारर मूवी में शानदार तरीके से 36 सिख रेजीमेंट के 21 सिख सैनिकों के पराक्रम और बलिदान को दिखाया गया है. 1897 में हुई सारागढ़ी बैटल इतिहास की सबसे बहादुर लड़ाइयों में गिनी जाती है. केसरी के डायरेक्टर अनुराग सिंह ने इस मूवी से बॉलीवुड में अपनी पारी शुरू की है.

कहानी :- बात 19वीं सदी की है, जब अफगानी किसी भी तरह से भारतीय सरजमीं पर अपनी बाहशाहत कायम करना चाहते थे. तब भारत ब्रिटिशों के अधीन था. अफगानियों और ब्रिटिश हुकूमत के बीच जंग होती रहती थी. सितंबर 1897 में अफगानियों ने प्लान बनाया कि वो सारागढ़ी (जो कि अब पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में है) के रास्ते भारत पर हमला करेंगे. 1 ही दिन में सारागढ़ी किला फिर उसके बाद गुलिस्तान किला और अंत में लोकहार्ट किले पर फतह करेंगे. लेकिन सारागढ़ी किले में तैनात 21 सिख सैनिकों ने अफगानियों को करारी टक्कर दी. सारागढ़ी किले में हवलदार इशर सिंह (अक्षय कुमार) के नेतृत्व में कैसे 21 सैनिकों ने अफगानियों से लोहा लिया, ये देखने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी.

एक्टिंग :- लुक और अभिनय के नजरिए से ईशर सिंह के रूप में इसे अक्षय कुमार की अब तक की सबसे उत्कृष्ट परफॉर्मेंस कहें तो गलत न होगा. उन्होंने इंसानियत और वीरता के इमोशंस को परदे पर बेहतरीन ढंग से अंजाम दिया है. अक्षय ने अपनी संवाद अदायगी में सिखों द्वारा बोले जानेवाले लहजे को बहुत ही खूबसूरती से निभाया है. परिणीति चोपड़ा को स्पेशल गेस्ट के रूप में दर्शाया हो, उनका रोल छोटा है. अफगान सरगना के रूप में राकेश चतुर्वेदी ओम ने अच्छा काम किया है. सिख सिपाहियों के रूप में सभी कलाकारों ने ईमानदार परफॉर्मेंस दी है.

साभार : पलपल इंडिया

">

LEAVE A REPLY