धमकी भरे अंदाज में साक्षी महाराज ने भाजपा को चेताया


लखनऊ : विवादों में अक्सर घिर जाते हैं उत्तर प्रदेश के उन्नाव से भाजपा के सांसद साक्षी महाजन, लेकिन इस बार उनका अंदाज थोड़ा अलग है. इस बार उनके ही लिखें एक खत की वजह से चर्चा में है. दरअसल, यह खत सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. इस खत में उन्होंने धमकी भरे अंदाज में भाजपा को चेताया है. आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव संसदीय सीट से भाजपा के फायरब्रांड सांसद साक्षी महाराज ने कथित रूप से पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष महेन्द्र नाथ पांडेय को पत्र लिखकर धमकी भरे अंदाज में इसी संसदीय क्षेत्र से एक बार फिर टिकट देने की मांग की है. बता दें कि सोशल मीडिया में वायरल हो रहा यह खत सात मार्च को लिखा गया है.

इस खत में उन्होंने क्षेत्र में जातीय समीकरणों का हवाला देते हुये कहा है कि पिछड़े वर्ग की नुमाइंदगी करने वाले पार्टी के वह इकलौते प्रतिनिधि हैं जबकि संसदीय क्षेत्र में लोधी, कहार, निषाद, कश्यप और मल्लाह समेत अन्य पिछड़ा वर्ग के वोटरों की तादाद करीब 10 लाख है. इसके अलावा उन्होंने यह भी लिखा है कि अपने मौजूदा कार्यकाल में जिले के विकास के लिये काफी काम किया है जिसे स्थानीय जनता ने सराहा भी है.

वही, मौजूदा सांसद ने दावा किया है कि उन्होंने करीब डेढ़ दशक बाद पिछले लोकसभा चुनाव में उन्नाव से पार्टी को जीत दिलायी थी. उनकी बदौलत ही आज जिले में भाजपा के छह विधायक और एक एमएलसी है. आपको बताते चलें कि उन्होंने धमकी भरे अंदाज में लिखा है कि यदि उनके संबंध में पार्टी कोई अन्य निर्णय लेती है तो इससे देश भर में भाजपा के करोड़ों कार्यकर्ताओं के आहत होने की पूरी संभावना है.

साक्षी ने कहा है कि पार्टी के अन्य सांसदों की तुलना में वह अन्तर्राष्ट्रीय क्षितिज में अपनी विशेष पहचान बनाने में सफल रहे हैं. संत धर्माचार्य और श्री निर्मल पंचायती अखाड़ा हरिद्वार के आचार्य महामण्डेलश्वर होने के नाते वह सभी जातियों,धर्मों और वर्गों में अपनी पैठ बनाने में सफल रहे हैं. अगर उन्हें उन्नाव से दोबारा टिकट मिलता है तो वह गठबंधन के प्रत्याशी अरुण कुमार शुक्ला और कांग्रेस उम्मीदवार अनु टंडन की जमानत जब्त करा भारी मतों से विजयी होंगे.

">

LEAVE A REPLY