नरसंहार मामला : 171 किसानों की हत्या का दोषी पाया गया पूर्व सैनिक, कोर्ट ने सुनाई 5160 साल की सजा


एक इंसान कितने साल तक जीवित रह सकता है? 80, 90, 100 या बमुश्किल 120. लेकिन एक देश के एक पूर्व सैनिक को 171 किसानों की हत्या का दोषी पाया गया, जिसके बाद वहां की अदालत ने उसे रिकॉर्ड 5160 साल जेल की सजा सुनाई है.  मामला मध्य अमेरिकी देश ग्वाटेमाला का है जहाँ की एक अदालत ने बुधवार को एक पूर्व सैनिक को गृह युद्ध के दौरान 201 किसानों के नरसंहार के मामले में 5,160 साल की जेल की सजा सुनाई है. वही, ग्वाटेमाला का ये नरसंहार इस मध्य अमेरिकी देश के गृह युद्ध की सबसे नृशंस घटनाओं में से एक था. अदालत ने सांतोस लोपेज को उस नरंसहार में 171 लोगों की हत्या का दोषी पाया और प्रत्येक के लिए 30-30 साल यानि कुल 5,130 साल की सजा सुनाई. उसे एक बच्चे की हत्या के सिलसिले में 30 साल की अतिरिक्त सजा मिली.
आपको बता दें कि सजा सांकेतिक है क्योंकि ग्वाटेमाला में जेल की सजा की अधिकतम अवधि 50 वर्ष है. लोपेज कैबिल नाम के अमेरिका द्वारा प्रशिक्षित जवाबी कार्रवाई बल के सदस्य थे. उसे अमेरिका में गिरफ्तार किया गया था और 2016 में निर्वासित कर दिया गया था. जांच के मुताबिक, लोपेज उस दल का सदस्य था जिसने दिसंबर 1982 में मेक्सिको की सीमा से लगे ग्वाटेमाला के दोस एरेस क्षेत्र में नरसंहार किया था. संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, 1996 तक चले ग्वाटेमाला के गृह युद्ध के दौरान करीब 2 लाख लोग मारे गए या लापता हो गए थे.
साभार : सुदर्शन न्यूज़

LEAVE A REPLY