तेजप्रताप दिवाली के मौके पर भी घर से रहे दूर, पूरा परिवार करता रहा इंतजार


पटना : आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव जो इन दिनों जेल की सजा काट रहे हैं. उनके घर में अभी कुछ ही महीनों पहले उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव की शादी ऐश्वर्या से हुई थी जो अब टूटने की कगार पर आ गई है. जहां कल दोनों ने तलाक की अर्जी दाखिल कर दी है. जिसके बाद से वह अपने परिवार से दूर हैं. दिवाली के मौके पर भी वे घर से दूर रहे. आपको बता दें कि आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे और पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव अब तक घर नहीं लौटे हैं. पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी दाखिल करने के बाद वह घर से दूर हैं. दिवाली के मौके पर भी वह घर से दूर रहे और विंध्याचल में यज्ञ कराया. दिवाली के मौके पर घर पर तेज प्रताप की मां राबड़ी देवी और पत्नी ऐश्वर्या के साथ पूरा परिवार उनके इंतजार में रहा.

आपको बताते चले कि गुरुवार को तेज ने परिवार में शांति के लिए विंध्याचल में यज्ञ कराया. इससे पहले तेज ने अपने पिता लालू यादव से रांची स्थित रिम्स में मुलाकात की थी. पिता से मुलाकात के बाद तेज घर न जाकर वाराणसी पहुंच गए. इससे पहले तेजप्रताप ने कई दिन वृंदावन में बिताए थे. बता दें कि तेज प्रताप ने दो नवंबर को कोर्ट में तलाक की अर्जी दाखिल की थी. रांची में रविवार को अपने पिता लालू प्रसाद यादव से मिलकर पटना लौट रहे तेज प्रताप अचानक बुखार और जलन से पीड़ित होने की बात कहकर बोधगया में ही रुक गए थे. जब होटेल में उनके कमरे का दरवाजा खोला गया तो पता चला कि वह गायब हैं. उनके वृंदावन जाने की खबर सुरक्षाकर्मियों को भी नहीं थी.

गौरतलब है कि तलाक की अर्जी देते हुए तेज प्रताप ने कहा था, ‘ऐश्वर्या हाई सोसायटी की हैं और उनकी शिक्षा भी मुझसे मेल नहीं खाती है.’ राजनीतिक जीवन को नुकसान के सवाल पर तेज प्रताप यादव ने कहा कि वह धार्मिक किस्म के आदमी हैं, जहां जाएंगे वहां करियर बन जाएगा.

LEAVE A REPLY