बीजेपी के दांवपेंच में यहाँ भी फंसी कांग्रेस, सात बार विधायक रहे हिफेई ने दिया इस्तीफा, भाजपा में शामिल हुए

0
30

आइजोल. कांग्रेस चाहे जितना भी अपनी छवि सुधारने की कोशिश कर के साथियों के साथ कदम बढ़ाना चाहती है, मगर बीजेपी की कोई न कोई खेली गयी चाल में फंस ही जाती है, ताज़ा मामला मिजोरम का है जहाँ मिजोरम विधानसभा के अध्यक्ष हिफेई ने सोमवार को कहा कि उन्होंने अपने पद, सदन और कांग्रेस से इस्तीफा दे दिया और भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए हैं. गौरतलब है कि हिफेई प्रदेश में 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी और पद दोनों छोड़ रहे हैं. कांग्रेस से सात बार विधायक रहे हिफेई ने अपना इस्तीफा विधानसभा उपाध्यक्ष आर. लालरीनवमा को सौंपा जिन्होंने उसे स्वीकार कर लिया है.


Image result for विधानसभा अध्यक्ष पद से इस्तीफे के बाद हिफेई भाजपा में शामिल हुएवहीं से हिफेई कांग्रेस के कार्यालय गए और वहां पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दिया. सितंबर से अभी तक 40 सदस्यीय विधानसभा से इस्तीफा देने वाले हिफेई कांग्रेस के पांचवें विधायक हैं. अनुभवी नेता हिफेई 2013 में पलक विधानसभा क्षेत्र से चुनकर 40 सदस्यीय विधानसभा में पहुंचे. पूर्वोत्तर में मिजोरम एकमात्र कांग्रेस शासित राज्य है.


 

गुवाहाटी में पूर्वोत्तर जनतांत्रिक गठबंधन (एनईडीए) के समन्वयक और भाजपा नेता हिमंत बिस्व शर्मा ने पहले कहा था कि कि हिफेई (81) उनकी उपस्थिति में मिजोरम की राजधानी आइजोल में भाजपा में शामिल होंगे. असम के वित्त मंत्री शर्मा ने कहा, ”वह बहुत वरिष्ठ नेता हैं. उनके भाजपा में शामिल होने से पार्टी मजबूत होगी.


 

LEAVE A REPLY