यौन उत्पीड़न के मामले में दो आरोपी पादरियों ने किया आत्मसमर्पण, जालंधर में होगी केस की पूछताछ


हरियाणा : जहां एक तरफ राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने 12 साल से कम उम्र की लड़कियों के साथ रेप करने पर आरोपियों के लिए फांसी की सजा को मंजूरी. वही दूसरी तरफ आज एक अदालत में रेप की वारदात को अंजाम देने वाले दो आरोपियों ने आत्मसमर्पण कर दिया. इन दोनों आरोपियों ने उस महिला के साथ रेप जैसी वारदात को अंजाम दिया. जो चर्च में ईश्वर के समक्ष पाप को स्वीकार करने गई थी. उसी दौरान महिला के साथ चार पादरियों ने रेप किया. इस वारदात की शिकायत महिला के पति ने पुलिस को बताई. आपको बता दें कि रेप के चार आरोपी पादरियों में से दो ने अदालत में सरेंडर कर दिया है. इनके नाम जेके जॉर्ज और सोनी वर्गीज हैं. इन दोनों ने थिरवल्ला जिले के स्थानीय कोर्ट में आत्मसमर्पण किया है. पुलिस को दिए बयान में शिकायतकर्ता महिला के पति ने बताया कि उसकी पत्नी जब ईश्वर के समक्ष पाप स्वीकार करने आई तो उसके साथ यौन उत्पीडऩ की गई. शिकायत को आधार बनाते हुए चर्च ने इन्हें फिलहाल ड्यूटी से हटा दिया था और इस मामले में चर्च की तरफ से एक आंतरिक जांच भी शुरू की गई थी.

बताया जा रहा है कि केरल में पिछले कुछ दिनों से एक ऑडियो क्लिप वायरल हो रहा है जिसमें महिला के पति पूरी घटना के बारे में बता रहे हैं. इस क्लिप में वह बता रहे हैं कि आरोपियों में से एक पादरी ने तो शादी के पहले ही उनकी पत्नी के साथ यौन उत्पीडऩ की थी. उधर, जालंधर में नन द्वारा बिशप फ्रैंको मुलक्कल पर लगाए गए जबरदस्ती के आरोपों के मामले में केरल पुलिस आज बिशप से पूछताछ के लिए उसके घर पहुंच सकती है. इस मामले में बारादरी पुलिस बिशप हाऊस पहुंच चुकी है. यहां तक कि बिशप घर के आस-पास पुलिस ने बैरिकेड  लगाकर सुरक्षा के कड़ें इंतजाम भी कर दिए हैं.

">

LEAVE A REPLY