मैड्रिड ओपन टूर्नामेंट में तीसरी बार क्वीतोवा ने जीता खिताब 


मैड्रिड : जहां एक ओर आईपीएल लोगों के लिए लोकप्रिय खेल बना हुआ है. वही इस आईपीएल में कई रोमांचक टक्कर देखने को मिली. लेकिन अब आईपीएल के अलावा भी और दूसरे खेलों में भी लोगों में क्रेज बढ़ता जा रहा है. वही दूसरी ओर हो रहे मैड्रिड ओपन टेनिस टूर्नामेंट में इस महिला खिलाड़ी ने तीसरी बार खिताब को अपने नाम किया है और वह दुनिया की पहली महिला खिलाड़ी बन गई है. जिन्होंने ऐसा कारनामा किया. आपको बता दें कि चेक गणराज्य की पेत्रा क्वीतोवा ने किकी बर्टेंस को महिला एकल फाइनल में 7-6, 4-6, 6-3 से पराजित करने के साथ मैड्रिड ओपन टेनिस टूर्नामेंट का खिताब तीसरी बार अपने नाम कर लिया है, वह ऐसा करने वाली दुनिया की पहली खिलाड़ी बन गई हैं. विश्व में 10वीं रैंक क्वीतोवा ने तीन सेटों तक चले चुनौतीपूर्ण मैच को दो घंटे 52 मिनट में जीता जिसमें पहला सेट 75 मिनट तक चला और टाईब्रेक में समाप्त हुआ.

बताया जा रहा है कि मेट्रिक ओपन टेनिस टूर्नामेंट में हॉलैंड की खिलाड़ी ने इससे पहले कैरोलीना वोज्नियाकी और मारिया शारापोवा को हराकर फाइनल में जगह बनाई थी और पहले सेट को टाईब्रेक में हारने के बाद दूसरे सेट में 6-4 से जीत दर्ज कर मैच को निर्णायक सेट में पहुंचा दिया. बर्टेंस ने तीसरे सेट में शुरूआती ब्रेक अंक हासिल किया लेकिन क्वीतोवा ने लगातार दो बार उनकी सर्विस ब्रेक करते हुए 4-2 से बढ़त बना ली. बर्टेंस ने फिर क्वीतोवा की सर्विस ब्रेक कर स्कोर 4-3 किया लेकिन अगले गेम में सर्विस गंवा बैठी और चेक खिलाड़ी ने फाइनल गेम जीतने के साथ मैच और अपना तीसरा मैड्रिड ओपन खिताब जीत लिया. वही उन्होंने इस जीत के साथ अमेरिका की सेरेना विलियम्स और रोमानिया की सिमोना हालेप को पीछे छोड़ दिया है जिनके नाम दो दो खिताब हैं. उन्होंने जीत के बाद कहा, मेरे शरीर में जो भी था मैंने उसे यहां लगा दिया, जबकि आज का मैच काफी मुश्किल था.

LEAVE A REPLY